Bhoot ki kahani - एक चुड़ेल और गांव की खौफनाक सच्ची घटना

Share:

Bhoot ki kahani - एक चुड़ेल और गांव की खौफनाक सच्ची घटना | real horror story 


Bhoot ki kahani
    
                    एक चोर गांव की दुकान से चोरी कर के भाग रहा है
      सभी गांव के लोग उसके पीछे पड़े है
वह चोर भाग रहा है 
और साथ ही साथ 
गांव के लोग भी जो उसका पीछा करते हुए 

चोर और गांव के लोग एक जंगल में घुस जाते है 
और
वह चोर एक गुफा के अंदर छुप जाता है सारे गांव के लोगो को चकमा दे कर
अब सभी गांव वाले चले जाते है थक हार के

अब वह चोर जिसका नाम पंकज है वो
कहता है
पंकज :  बच गया आज नही तो यह सिर्फ 1000 रुपए के लिए मार ही देते चलो अब एक हफ्ते तक कुछ नही करना पड़ेगा


वह जैसे ही बाहर जा रहा होता है उसे गुफा के अंदर की तरफ से चम चमाती रोशनी दिखती है वह उस रोशनी की तरफ बढ़ता है

वह जैसे ही आगे बढ़ता है उसे एक बक्सा मिलता है उसी में से वह चमकती रोशनी आ रही थी 

वह उसे खोलता है उससे सब से पहले एक गुड़िया मिलती है वह उसे फेंक देता है और सोने के सिक्के  को अपने जेब में भरने लगता है 
वह गुड़िया जिसे पंकज ने फेंका था

 वह धीरे धीरे बड़ी होती है

और असली रूप में आती है एक चुड़ेल जो जिसका शरीर बूढ़ा था 

एशा मानो की वह बहुत समय से इसमें बंद हो वह जैसे ही अपना हाथ पंकज के कंधे पड़ रखती है वह चोर पूरा बूढ़ा हो जाता है 
एशा  जैसे 30 साल की उम्र में वह 90 साल का हो गया हो और वही मर जाता है ।

और वह चुडेल जवान हो जाती है और हसने लगती है ।
बहुत समय हो गया मगर अब नहीं 

हां हां हां

Also read : रहस्म्य लॉकेट का माया जाल 

अब वह चुड़ेल उस चोर का रूप धारण कर के उसी गांव में जाती है

पंकज चोर के रूप में

अब यह पंकज सब के सामने माफी मांगता है कहता है हमे माफ कर दियो भैया हम अगली बारी से एशा नही करेंगे यह लो आपके हजार रुपए

गांव के बुजुर्ग लोग कहते है 
छोड़ दो इससे इसको अपनी गलती पर पछतावा है ।

सभी गांव के लोग ऐसा करते है ।

और पंकज अपने परिवार के पास जाता है और कहता है 

अपनी बीवी बच्चों को मुझे माफ कर दो में कल से अच्छा काम करूंगा और वह अपने परिवार को सोने के सिक्के देता है जो काफी मूल्यवान है 
वह एक सोनार को बेच के काफी पैसे लेते है और आज की रात काफी खुशी से खा पी की सो जाते है।

और पंकज अब आधी रात को जागता है और उस के घर में जाता है जिसके दुकान से पैसे चोरी किए थे

Also read : भूतिया सड़क


वह उन सभी के कंधे पर हाथ रखता है 
एक
 एक कर के  सब बूढ़े हो जाते है और वही मर जाते है 

यह चुड़ेल जिसने पंकज का रूप लिया है इसने यही योजना बनाई है धीरे धीरे सभी गांव के लोगो की उम्र ले कर यह और शक्तिशाली हो जायेगी और सब से सुंदर भी

सुबह होते ही गांव के लोगो को यह बात पता चलती है सब लोग हैरान हो जाते है कोई व्यक्ति कहता है

कल रात को इनकी तबीयत ज्यादा खराब थी शायद कोई गलत दावा ले ली है जिसके कारण यह सब मर गए है

अब 

हम एक बूढ़े बाबा को देखते है 

कहता है :  वो आ गई है वो

वो आ गई है !

मगर कोई विश्वास नही करता इनका क्युकी यह हमेशा एशे ही करते है हमेशा से ही बच्चो को भूत की कहानियां 
( bhoot ki kahani ,bhoot wali kahani ) यह hindi horror story सुनाते है तो सभी लोग एशे ही मजाक में इनकी बातें को ध्यान में नही देते है 

मगर

उस गांव में एक व्यक्ति जिसका नाम बादल है वह कहता है 

जरूर बाबा शायद इसके बारे में कुछ न कुछ जानते होंगे ।

पंकज जो उसके पास इतना पैसा था 
अब 
वह हर दिन मास खाता और उसके परिवार भी सभी खुश थे बहुत समय बाद उन्हें यह सब खाने को मिल रहा था ।

उसकी बीवी जिसका नाम राधिका है वह कहती है

राधिका : में मां बनने वाली हूं

Also read : खूबसूरत डायन का बदला 


पंकज : मन ही मन यह तो बहुत अच्छी बात है अगर मैने एक एश बच्चे पैदा होते ही अगर उसकी उम्र ले ली तब तो एक नया जीवन मिल जायेगा मुझे , मुझे एक शरीर मिल जाएगा रहने के लिए

वह कहता है यह तो बहुत अच्छी बात है अब तुम अपना ख्याल रखो और बच्चो को कहता है मां के सेवा करे

अब

वह अकेले निकल जाता है रात को और जानवरों का खून पीने लगता है और कई लोगो की उम्र को खींच लेता है धीरे धीरे गांव के लोगो को लगने लगा कोई श्राप लग गया है इस गांव में

वह व्यक्ति जो बादल है बाबा ने उसी सारी बात बताते है

वह चुडले एक बक्से से आजाद हुई है 
पुराने समय में वह एक रानी थी 

मगर वह बूढ़ी होने लगी तो राजा ने उससे अपने राज्य से निकाल दिया
 और 
कुछ समय बाद वह काला जादू , विद्या तंत्र की तरफ हो गई उसने राक्षसों की पूजा करना शुरू कर दी और जब उसे शक्तियां मिल गई तो वह चाहती थी

 उस राज्य के आसपास सभी गांव को पूरी तरह से बरबाद करना लोगो को मारना उनकी उम्र को लेना ताकि वह हमेशा सुंदर रहे जवान रहे 
 और पूरी तरह से राज्य भी खत्म करना 
एक विद्यमान गुरु ने राजा को बचाने के लिए उससे एक बक्से में कैद कर दिया ।

Bhoot ki kahani



अगर उससे रोकना है तो यह काम करना होगा ।

अब पंकज कुछ समय तक यह हत्याएं करना  रोक देता है की किसी को उसके ऊपर शक न हो वह बिना किसी चिंता से जीवन जीता है ।

मगर जब एक रात गांव में मेला लगा तो उससे रहा नही गया वह छुप छुप के लोगो की उम्र लेने लगा और जानवरों का मास और उनका खून पीने लगा

बादल ने यह देख लिया अब वह सभी लोगो को यह बात बता देता है और वह

चुडेल भी पंकज का रूप छोड़ अपने रूप में आ जाती है
एक साथ सभी लोगो को हवा में उठा लेती है

Also read : इच्छा अमर होने की


मगर बादल को उस बाबा ने बताया था उसकी जान कहा है

वह जैसे तैसे कर के उस चुड़ेल के सीधे हाथ की छोटी उंगली को काट देता है जिससे उसकी सारी शक्तियां खत्म हो जाती है सारे गांव के लोग जो हवा में थे अचानक नीचे गिरते है 
और 

वह लोग जैसे ही उसके आगे बढ़ते है वह चुड़ैल वैसे ही धीरे धीरे गायब होने लगती है अब 100 सालों तक नही आयेगी जब तक उसकी छोटी उंगली वापस पूरी तरह से नही आ जाती इसका मतलब वह फिर कैद हो गई उसी बक्से में।

आशा है की यह कहानी आपको अच्छी लगी हो हमें comment कर के जरूर बताएं ।
ऐश ही bhutiya kahani aur hindi horror story पढ़े हमारे वेबसाइट पड़ जो real horror story हैं ।
धन्यवाद ! 


कोई टिप्पणी नहीं