मेरे दोस्त की सीख देने वाली कहानी : Hindi motivational story

 मेरे दोस्त की सीख देने वाली कहानी : Hindi motivational story |best motivational story in Hindi |


इस लेख में हम आपको ऐसी hindi motivational story के बारे में बताने जा रहे है , जिसमे आपको किया करना चाहिए और किया नही , जिन्हें पढ़ कर आप अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए और भी मोटिवेट हो जाएंगे। साथ ही साथ मोटिवेशनल कहनी छोटी सी भी मेने जोड़ी जो मेरे दोस्त के रियल लाइफ जिंदगी का उदहारण है

सपनों को हासिल करने, या कठिन समय में ताकत खोजने की कहानी हो,विद्यार्थियों को सीख देने वाली कहानी ये motivational stories आपको खुद पर विश्वास करने और कुछ भी कर सकने वाले दृष्टिकोण के साथ जीवन जीने में मदद करने के लिए एक धक्के की तरह होंगी  motivational story for students in Hindi| motivational story for kids |

motivational story for students in hindi


मेरा नाम इरफान है में अभी 20 साल का हु और में आज भी घर से पैसे ले कर काम चलाता था ।

में पढ़ा लिखा मजदूर हु मेने डिप्लोमा पास हु मगर कोई फायदा नही हैं । मेरे साथ 30,000, से भी ज्यादा की नौकरी कर रहे है मुझे वह नौकरी नही मिली 

में आज मात्र 12000 की नौकरी कर रहा हु जिसमे एक मजदूर हु मुझे 12 -12 घंटे काम करना होता है घर पे खाली बैठने से अच्छा मेने यह चुना मजदूर की जिंदगी क्योंकि इस मजदूर का काम कर के मेरे घर में कुछ पैसे आ रहे थे ,

 आज का शीर्षक "  motivational story for students in hindi " है और आज में आपको 

यह बताना चाहता हु मेने किया गलती किया जो में आगे नही बढ़ पाया क्योंकि इस 20 साल की उम्र तक में यह जान गया की मुझे अगर जिंदगी में आगे बढ़ना है तो किया करना है और किया नही |

motivational story for students in hindi

किया करना है  ( best steps to take ) :-

1) अपनी अच्छी और बुरी आदतें को पहचाने ( Habits)

2) अपने जीवन में अनुशासन बनाए | ( Discipline)

3) सकारात्मक सोचे ( Positive Thinking ) 

4 ) किसी काम को करे तो लगातार करे ( consistency)

5 ) अकेले रहने की कोशिश करे ।

यह सारे उपर दिए गए कार्य को मेने आगे अच्छे से बताया है ।

1) आपने आप को पहचानो आप को किया करना है अपनी बुरी आदतें और अच्छी आदतें को पहचाने और कोशिश करे अपनी बुरी आदतें को छोड़ने की ।

  नोट :- अच्छी आदतें आपको आगे बढ़ने में सहायता करती है कोशिश करे और अच्छी आदतें अपनाने की जैसे :- समय से अपना काम करना , सुबह जल्दी उठना , बुरी आदतें को धीरे धीरे छोड़ना,जो आप से बड़े है सफल है जीवन में उनके साथ समय बिताए वह आपको अपना अनुभव बताएंगे हार और जीत का ।

2 ) अपने जीवन में अनुशासन रखो ( Discipline) 

नोट:- अनुशासन आपको बचे हुए काम को पूरा करने में मदद करती है , अगर आप अनुशासन बनाए रखें की आज मुझे 2 घंटे पढ़ने है तो आप उन दो घंटे में अपना काम बिना किसी जल्दबाजी के पूरा करेंगे । आप एक समय में एक ही काम करे और जो भी करे उसे अपने मन से करे  ।

Also read : जीवन का संघर्ष

3 ) सकारात्मक सोचे ( positive thinking)

नोट - जब आप खुश रहेंगे और अच्छा सोचेंगे तो आप को और ज्यादा काम करने का मन करेगा और आप जब काम के समय मन लगा के करेंगे तो गलती करने का बहुत कम संभावना होती है ।

अगर आप यह सोचते है , यह काम बेकार  है मतलब आप यह negative thinking करते है तो वह काम भी सही नही होगा और आप उससे सही से भी नही कर पाएंगे और आप से गलती हो जायेगी और आपको बाद में पछतावा ही होगा तो जिंदगी में आपको पछतावा हो ऐसा काम न करे ।

4 ) किसी काम को लगातार करे ( consistency)

किसी भी काम को आप एक बार में नही सिख सकते आपको थोड़ा समय देना ही पड़ता है तो हर एक काम को सीखने के लिए उसके basics को समझने की कोशिश करे और धीरे धीरे उस काम को करे और साथ ही साथ उसके बारे में जानकारी भी इकठ्ठा करे जिसे आप के पास पूरी जानकारी होगी ।

5) अकेले रहे  (  Alone person)

नोट:- जो लोग आपकी इज्जत ना करे उन से दूरी बनाए रखें जो लोग आपको सही सुनते नहीं है और ना सही से बात करते है तो उन से थोड़ी दूरी बनाए रखें क्योंकि वह अगर आपके साथ है तो एक मतलब के लिए जिस समय वह मतलब पूरा हो जाएगा वह आपको रुला देंगे बाद में पछताने से अच्छा पहले ही बचने की कोशिश करे ।

किया न करे ( don't do this steps ) :- 

1) दिखवा मत करे ।

2 ) एक समय में दो काम ना करे ।

3 ) समय को महत्व दे इसका बर्बाद ना करे फालतू का का काम कर के जैसे : - ( देर से उठना , आज नही कल करने की आदत , खेल में लगे रहना ) ।

4) आपने से बड़े को आदर करे उन्हें निरादर न करे 

5) एक जगह पे टिके मत रहो अगर आप कुछ चाहते हो और नहीं कर पा रहे तो दूसरे रास्ते से प्रयास करे ।

6) अगर आप हार गए तो उससे भागने के वजह सीखे और जाने आप किया गलती कर रहे हो ( इस point को में एक हिंदी कहानी के माध्यम से बताना चाहता हु  जो जबरदस्त मोटिवेशनल कहनी है  , जो एक अच्छी सीख देने वाली कहानी है ।

Also read : 7+ real horror story in hindi

यह एक hindi motivational story है जो एक सच्ची आधारित घटना जो मेरे दोस्त ने इसे सीखी । इस हिंदी कहानी की सिख आपको धैर्य के बारे में  सीखेंगे 

motivational story for students in hindi

मेरा दोस्त गुलशन खाना बनाना और दूसरे को खिलाना उसे काफी ज्यादा अच्छा लगता  था , वह काफी गरीब था मगर खुश  था ,उसने समाचार में खाना बनाने की प्रतियोगिता के बारे में सुना और उस इनाम के बारे में भी जो जितने वाले प्रतियोगी को मिलेगा ,

 उसने यह सोचा अगर यह प्रतियोगिता वह जीत जाता है तो उसके पास पैसे भी हो जाएगा और वह अपनी छोटी सी खाना बनाने की दुकान को बड़ा कर सकता है  और साथ ही साथ वह पैसा भी कमा लेगा ,

 तो उसने सोचा अगर में खाना बनाने की प्रतियोगिता में हिस्सा लू तो में लोकप्रिय भी हो जाऊंगा और जीत गया तो  दूर- दूर से लोग मेरे हाथ का खाना खाने आएंगे मगर वह इतना ज्यादा सोच लिया की में ही जीतूंगा और अमीर बनूंगा , उसने कोई प्रयास भी नही किया खाना बनाने की क्योंकि उससे बस यही लगता था वह ही विजेता बनेगा ,

मगर वह हर जाता है उससे समझ ही नही आता वह कैसे हार गया वह अपना मुंह भी किसी को नही देखा पा रहा था , 

उसके दादी ने उससे बताया अगर आगे बढ़ना है तो ये जानने की कोशिश करो की तुम गलती कहा की  और किया गलती तुम कर रहे हो फिर वह अपनी खाना बनाने की प्रतियोगिता के समय को याद किया और बहुत समय सोचने के बाद ,

उसने यह ध्यान दिया की विजेता बनने की खुशी में मेने अपना काम  सही से नही किया और बहुत जल्दी खाना बना लिया समय से पहले जिससे खाना कच्चा ही बना , उसमे जो सब्जियों के मसाले थे वह भी नही सही से पके थे ।

उससे समझ आया की जल्दबाजी में और ना समझ में उसने सब गलत किया और उससे समझ आया किसी काम को करना है तो ध्यान  और धैर्य और  जल्दी खाना बना लिए जिससे में लोगों की नजर में आजाऊंगा और यह प्रतियोगिता भी जीत जाऊंगा और दूसरे लोगो ने पूरा समय लिया और अच्छे से खाना बनाया ।

यह ही कारण था कि में हार गया गुलशन समझ गया और वह एक बार फिर खाना बनाने की प्रतियोगिता में हिस्सा लिया और उसने इस बार बिना किसी जल्दबाजी के बजाय पूरा समय लिया और सारे मसाले को भी सही से पकने दिया और अच्छी तरह  खाने को सजा के प्रतियोगिता के (judge ) जज को   खाना पेश किया और इस बार वह सफल रहा ।

Also read : भूतिया हवेली 

और उसने कुल 40,000 की इनाम जीता जिससे उसने अपनी दुकान को थोड़ा बड़ा किया और प्रतियोगिता में जितने के बाद वे लोकप्रिय भी हो गया जिससे उसे पैसे भी आने लगा और वह अपनी गलतियों से सीख ले कर आगे बढ़ा ।

निष्कर्ष :

में बस आपको यह बताना चाहता हु की एक व्यक्ति अपने अंदर की अच्छाई और बुराई जनता है मगर वह बस किस्मत और नसीब को दोष देता है, सोच को बदले और आगे बढ़ने के लिए कर्म करे , अपने गलतियों से भागे नही उससे सीखने की कोशिश करे ,

में आशा करता हु आपको यह " real life inspirational stories in hindi" or "motivational stories in hindi" और आपको किया करना चाहिए और किया नही करना  चाहिए यह  लेख बच्चों को सीख देने वाली कहानी आपको अच्छा लगा हो ?  अपना सुझाव हमे कमेंट में बताए ।

एक Motivational quotes in Hindi में  :

 Karma hit back to you  

So don't worry  keep good work and focus yourself the time is not far off my friend when you get success.

धन्यवाद !

टिप्पणियाँ

लोकप्रिय पोस्ट