भूतिया कमरा: एक आत्मा की बेहद डरावनी कहानी|hindi horror story

भूतिया कमरा: एक आत्मा की बेहद डरावनी कहानी|hindi horror story


            भूतिया कमरा 

Hindi Horror Story



यह  (hindi horror story ) दिल्ली की है ।

दिल्ली दिल वालो की है  यह नाम तो हर किसी ने सुना है  यहाँ के छोले भटूरे , आलू का पराठा, पूरी तरह से वो समान से भरा हुआ जो आज की मॉडर्न जेनरेशन को चाहिए। 

ये कहानी दिल्ली में राजेंद्र नगर की है ।

 राजेंद्र नगर में एक छोटा सा मकान जिसमे पांच कमरे है जिसमे चार कमरों में किराए दार रहते है  सभी खुशी खुशी रहे रहे है l 


एक कमरा जो खाली उसमे कोई किरये दार नहीं रहता और  मकान मालिक किसी को भी ये कमरा किराए पर नही देता था।

 इस वजह से काफी ज्यादा  बात चीत हुई मगर किसी को उसमे कमरे की इज्जाजत नही मिली  | 

Also read: भूतिया हवेली

एक रात दो चोर आए और उन्हें लगा कि इस कमरे में ताला लगा है शायद इस कमरे के लोग बाहर गए है वो ताले को किसी तरह खोल के अंदर जाते ही है तो उसमे से एक दोस्त कहता है को तुम बाहर नजर रखो में अंदर से सारा सामान साफा चट करता हु | 


जैसे वो अंदर जाता है उसके थोड़ी देर बाद खंजर चलने की आवाज आ रही थी उस कमरे से दूसरा दोस्त भी जाता है और उन दोनो की मौत हो जाती है | 

सुबह होते ही आस पास के किराए दार देख कर दंग रह जाते है और वो सब से पहले मकान मालिक को फोन 📱 कर के बताते है मकान मालिक समझ जाता है वो आत्म निकल गई उस कमरे से और वोह मकान मालिक भाग जाता है 

और देखते ही देखते उस कमरे से खून के धब्बे और मरी हुई शरीर दोनो गायब हो जाते है सब देख कर चौक जाते है ये किया जो गया और वोह किस को बताएंगे कोई विश्वास नही करेगा उन किराए दार पे 

Also read: अनपढ़ भाई

तभी उस कमरे का  गेट खुलता है और आत्मा सब को बताती है परेशान होने की जरूरत नही है 

मुझे पता है आप लोग अच्छे लोग है मुझे आप लोगो के नाम और काम भी मालूम है 

आत्मा :  उंगली उठा के बोली तुम शंकर हो तुम्हारी दुकान है और तुम गरीब लोगो को महीने में एक बार खाना जरूर खिलाते हो

तुम्हारे बगल में हरी है जो भला आदमी है और वोह अपने माता पिता को खुश देखना चाहता है और

 तुम्हारे बगल में दो बहनें रहती है जो हमेशा लड़ती रहेती है मगर दोनो ही अच्छे है एक दूसरे की देख -रेख करते है ।

मेरा भी परिवार था हम लोग 10 साल पहले आए थे यहाँ।

 और खुशी खुशी रह रहे थे मगर दो महीने से मेरे पति का काम नही चल रहा था और दो महीने से हमने कमरे का किराया नहीं दिया था ।

एक रात मकान मालिक आए और गुस्से में मेरे पति को मारा और बच्चो को भी और मेरे साथ जबरदस्ती की और मार डाला और मेरा कत्ल के इल्जाम में मेरे पति को इस मकान मालिक ने जेल भेज दिया और बच्चे भीख मांग रहे है

Also read: चुडैल  की सिलाई  मशीन

 मेने अपने आस पास सभी किराए दार को मार दिया क्युकी उन लोगो ने हमारी कोई मदद नहीं की वोह बस हम सब के साथ गंदा काम होते हुए देखते रहे इसलिए मैने सब को मार दिया और अब मकान मालिक की बारी है 

उसने मुझे एक बाबा की मदद से बंद करवा दिया और मेरा इंतकाम बाकी रहेगा और अब पूरा होगा ये आप सब फोन करो उन्हें और कहना की मालिक हम सब ने उस आत्मा को बाबा की वजह से बंद हो गई हमेश के लिए वोह सुन कर ये आता है 


और वो आत्म उसे मार कर खुशी खुशी चली जाती है और उसके बच्चे वो दो बहन पालन पोषण करती है | और उस आत्मा का पति भी कुछ दिनों में छूट जाते है और अपने बच्चो को अच्छी देख रेख करता है।

Also read: सच्ची दोस्ती की एक  कहानी

Moral of the story:- गलत काम का अंजाम हमेशा बुरा ही होता है तो हमेशा अपने आस पास से अच्छा सीखने की कोशिश करे और दोस्तो को भेजे ये कहानी धन्यवाद!

हम आशा करते है की यह hindi horror story आपको अच्छी लगी हो ! 

खूनी आत्म का रहस्य  | Horror stories in Hindi | hindi horror stories | horror story in hindi for reading horror story for kids 


टिप्पणियाँ

लोकप्रिय पोस्ट