real horror story in hindi - एक मुस्लिम के ईर्ष्या की कहानी


real horror story in hindi - एक मुस्लिम के ईर्ष्या की कहानी| real horror story hindi|

यह कहानी कोलकाता के करीम की है , एक सच्ची आधारित घटना किया हुआ जब एक पड़ोसी ने ईर्ष्या से गए एक बाबा के पास फिर .. पढ़िए यह real horror story in hindi में ।

real horror story in hindi
Hindi real horror story 

करीम आज काफी खुश आज उसकी काफी अच्छी नौकरी लगी है , अब वे बस इतना चाहता अपने परिवार के सारे कर्ज़ चुका सके ,

उसके परिवार ने बहुत मेहनत से उसे पालन पोषण किया है 

अब वह बस आगे बढ़ना चाहता है । 


अपनी नौकरी लगने की वजह से करीम ,

अपने सभी पड़ोसी को मिठाई बांट रहा है सारे पड़ोसी भी खुश है मगर एक पड़ोसी जो...
 
खुश नहीं है उसको बहुत बुरी नज़र से देख रहे है और उन्होंने करीम और उसकी परिवार को शुभकामनाये देने की वजह वह बस सब को कहते है  ये नसीब की बात है बस ।

क्युकी उनका बेटा रहीम भी उसी कंपनी में नौकरी के लिया गया था उसके बेटे का नया हुआ तो उन्हे ईर्ष्या हो रही है ।

अब कुछ महीने बाद,

करीम मेहनत कर के अपने परिवार के सारे कर्ज भी चुका दे देता है अब वह धीरे- धीरे आगे बढ़ रहे थे मगर उनके एक पड़ोसी जिसको अभी भी जलन हो रही थी ।
 
उनका बेटा रहीम धीरे धीरे हर जगह से  असफल और निकलने के बाद नशे का आदि हो जाता है ।

Also read : Bhutiya kahani : रहस्म्य लॉकेट का माया जाल

वह पड़ोसी ईर्ष्या से एक बाबा के पास जाते है ,


बाबा : अगर तुम चाहती हो की तुम्हारा बेटा आगे बढ़े तो करीम का एक बाल किसी तरह से ले आना मेरे पास
 
पड़ोसी : जैसा आप कहे
अब वह पड़ोसी कुछ मांगेने के बहाने से उसके घर जाते है । और किसी तरह से उसके शर्ट ( shirt) से गिरा बाल ले लेते है 

अब अगले दिन ,


एक नई सुबह सब का इंतजार कर रही थी ।

करीम और उसके परिवार की और रहीम और उसके परिवार की
सुबह

करीम की सेहत अचानक खराब हो जाती है उसके हाथ , टांगे दोनो काम करना बंद यह सुन के उसके उस पड़ोसी बहुत खुश हो जाते है
मगर ,
थोड़ी देर बाद रहीम की सेहत भी खराब हो जाती है और वह नही कुछ बोल पा रहा था और नहीं चल सकता था ।

real horror story in hindi
Real horror story hindi 


Also read : चुड़ेल की सिलाई मशीन 

और थोड़ी देर बाद करीम बिलकुल ठीक हो जाता है 
क्युकी उसे बस ज्यादा काम करने की वजह से शरीर में दर्द हो गया था जिससे वो कुछ समय के लिए नही चल पा रहा था ।
 
रहीम के घर वाले जो करीम के लिए चाहते थे वह उनके बेटे के साथ हो गया था।

क्युकी उन्होंने करीम के बाल की वजह अपने बेटे रहीम के बाल उस बाबा को दे दिया
 
क्युकी हवा से करीम का बाल उड़ गया तो रहीम के घर में उसके पहले से कई बाल टूटे पड़े थे तो उनके घर वालो ने अपने बेटे के बाल को उस बाबा को दे दिया ।

Moral of the story: 

अगर रहीम और उसका परिवार अगर करीम से ईर्ष्या ना करते तो उसकी सेहत सही होती और रहीम के परिवार अगर अपने बेटे को अच्छी सीख दे पाते वह उन्हें सीखा पाते की मेहनत से तुम आगे बढ़ सकते हो तो शायद रहीम आज करीम से भी आगे होता ।
कहते है सकारात्मक सोच इंसान को तंदुरस्त रखती है ।


आशा करता हु आपको ये पोस्ट real horror story in hindi में आप ने कुछ सीखा हो ऐश ही सच्ची आधारित घटना की कहानियां खूबसूरत डायन ,भूतिया हवेली , real horror story hindi  , motivational story,funny story पढ़े हमारी वेबसाइट पे ।

धन्यवाद !




















टिप्पणियाँ

लोकप्रिय पोस्ट